जीवदया / शाकाहार

शाकाहार माँसाहार
  1. आहार स्रोत के विचारों का मनोवृति पर प्रभाव
  2. ईश्वर नें जानवरों को हमारे भोजन के लिये ही पैदा किया है? (हिंसा अनुमति का यथार्थ)
  3. क्रूरता आकर करूणा के, पाठ पढा रही है
  4. जैसा अन्न वैसा मन, जैसा पाणी वैसी वाणी
  5. निरामिष पर शाकाहार पहेली
  6. पर्यावरण का अहिंसा से सीधा सम्बंध
  7. मांसाहार करते हुए वनस्पति जीवन पर करूणा क्यों उमड रही है?
  8. मांसाहार प्रचार का भण्डाफ़ोड (तुलनात्मक क्रूरता)
  9. मांसाहार प्रचार का भ्रमज़ाल (सार्थक विकल्प निरामिष)
  10. सभ्यता अनुशासन : उपभोग संयम। (आहार संयम)

3 टिप्‍पणियां:

  1. बहोत अच्छी साइट है आपकी... मुंबई की सेवाभावी संस्था समस्त महाजन की ओर से आपको शुभकामनाएं...

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. संजय जी, आपका बहुत बहुत आभार!!

      हटाएं
  2. Hamre Mission ke Anusar Loot Pat , Corruption , Mukt Bharat ho sakta hai . Cash change to check help only Income base , Sabhee Adalat me Jhhooth pakarne vale Machine se byan le Faisla jald sahee ho sakta hai .

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...